पूर्वोत्तर क्षेत्र में शहरीकरण तथा शहरी विकास के नीतिगत मुद्दे

Submitted by niuaadmin on 12 जनवरी 2016 - 4:33pm

यह अनुसंधानात्‍मक अध्‍ययन पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में शहरीकरण की प्रक्रिया की जांच करता है तथा वृद्धि को संचालित करने तथा शहरीकरण की प्रक्रिया का मार्गदर्शन करने हेतु उपायों की पहचान करता है ताकि क्षेत्र में पड़ने वाले राज्‍यों में सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन लाया जा सके। अध्‍ययन के अंतर्गत कुछ पहलुओं में क्षेत्रफल तथा जनसंख्‍या, निवल शेयर घरेलू उत्‍पाद का ढांचा, जिलावार आबादी का ग्रामीण-शहरी आबंटन, शहरी जनसंख्‍या घनत्‍व, शहरी परिवारों का औसतन आकार, कस्‍बेवार पुरूषों तथा महिलाओं की जनसंख्‍या और लिंग अनुपात, शहरी साक्षरता, कृषकों की प्रतिशतता, जनजातीय जनसंख्‍या की स्थिति, जलापूर्ति क्षमता, म्‍यूनिसिपल राजस्‍व की संरचना, शहरी केन्‍द्रों की नगरीय स्थिति, शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, स्‍वच्‍छता एवं जलापूर्ति सुविधाओं के लिए लक्ष्‍यगत अपेक्षाएं शामिल हैं।

Hindi