लघु और मध्यम शहरों का एकीकृत विकास (आईडीएसएमटी): एक मूल्‍यांकन अध्‍ययन

Submitted by niuaadmin on 12 जनवरी 2016 - 4:49pm

मौजूदा अध्‍ययन का फोकस ऐसे प्रश्‍नों के कतिपय सेटों के आधार पर आईडीएसएमटी कार्यक्रम के प्रभाव का मूल्‍यांकन करना है जैसे, क्‍या यह कार्यक्रम आठवीं योजना में जारी रहना चाहिए अथवा नहीं; यदि कार्यक्रम को जारी रखा जाए तो क्‍या इसी रूप में जारी रहना चाहिए अथवा अलग रूप में; आईडीएसएमटी कार्यक्रम के प्रभावी कार्यान्‍वयन में क्‍या-क्‍या कमी है। तथापि, अध्‍ययनों ने यह दर्शाया है कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत संवर्द्धित विकास के लिए शहरों के चयन की प्रक्रिया सही नहीं रही है। अत: अध्‍ययन में यह सुझाव दिया गया है कि आईडीएसएमटी कार्यक्रम उपयुक्‍त पुनर्सरंचना के साथ आठवीं योजना में जारी रहना चाहिए तथा शहरों के आर्थिक आधार के सुदृढ़ीकरण तथा आर्थिक एवं स्‍थानिक पहलुओं के एकीकरण पर विशेष जोर दिया जाना चाहिए।

Hindi