भारत में संपत्ति के सुधार में सर्वोत्‍तम परिपाटियां

अनुसंधानात्‍मक अध्‍ययन में देश के विभिन्‍न भागों में संपत्ति कर प्रणाली में सुधार करने संबंधी विभिन्न मुद्दों की जांच करने का प्रस्‍ताव है। यह संपत्ति कर सुधारों पर राज्‍य स्‍तरीय नीति के लिए व्‍यापक मंच तैयार करेगा जिसमें उत्‍तम परिपाटियों का प्रलेखन शामिल होगा। इसमें संपत्ति कर सुधार के क्षेत्र-कंप्‍यूटरीकरण में पहल, प्रौद्योगिकी का प्रयोग, कर-ढांचा, स्‍थानिक डाटा को जोड़ने, छूट आदि शामिल होंगें। इसका जोर संक्रमण एकत्रण मुद्दों पर होगा जैसे परिवर्तन कैसे हुआ एवं परिवर्तन सफल कैसे हुआ।

इस अध्‍ययन में कर-आधार के विधिक प्रावधान, वार्षिक किराया मूल्‍य (एआरबी) से संबंधित कानूनों, मूल्‍यांकन पद्धति के आधार पर प्राथमिक डाटा कर आधार बिलिंग तथा देश में 10 चुनिंदा नगर निगमों-जो जेएनएनयूआरएम वाले शहर भी हैं- राज्‍यों की राजधानियों तथा I श्रेणी के शहरों से प्राप्‍त संग्रहण आदि, दोनों की गहन जांच शामिल होगी। शहरों के चयन का प्रयोजन यह है कि वे ऐसे बेहतर तुलनात्‍मक उदाहरण हैं जहां सुधार अन्‍यों की अपेक्षा अधिक सफल रहे हैं तथा ये सर्वोत्‍तम परिपाटियों के केस अध्‍ययन बन सकते हैं।