क्षेत्रीय विकास में मंझोले शहरों की भूमिका-एक केस अध्‍ययन

Submitted by niuaadmin on 12 जनवरी 2016 - 4:34pm

यह अध्‍ययन तिनसुकिया (असम), छांगानाचेरी (केरल), बालासोर तथा संभलपुर (ओडिशा) के चार शहरों में एकीकृत छोटे तथा मध्‍यम शहरों का विकास (आईडीएसएमटी) कार्यक्रम के भाग के रूप में किए गए विभिन्‍न कार्यकलापों के निष्‍पादन एवं प्रभाव का विश्‍लेषण करता है और उन गतिरोधों की पहचान करता है जिनसे कार्यक्रम का कार्यान्‍वयन बाधित होता है। अध्‍ययन के परिणाम अनेक पहलुओं को व्‍यक्‍त करते हैं। दूसरा, यह अध्‍ययन कार्यक्रम की आयोजना तथा कार्यान्‍वयन में म्‍यूनिसिपल निकायों की प्रभावी भागीदारी की अनुपस्थिति को दर्शाता है और तीसरा विभिन्‍न आईडीएसएमटी कार्यकलापों के लिए भूमि-अधिग्रहण से जुड़ी समस्‍याओं की जांच भी की गई है।

Hindi